WHAT IS DROP SHIPPING : क्या है ड्रॉप शिपिंग , कैसे करता है काम , पूरी जानकारी

 

ड्रॉप शिपिंग : पैसे कमाना सबकी जरूरत है अगर घर बैठे पैसे मिल जाए तो क्या कहने , वो भी बिजनेस से तो फिर आप बड़ी रकम कमा सकते है । आप घर बैठे ड्रॉप शिपिंग का बिजनेस शुरू कर सकते है । ड्रॉप शिपिंग आपने पहली बार भी सुना होगा । कई लोग इसे जानते नहीं । आइए आपको बताते है कि ड्रॉप शिपिंग क्या है यह कैसे काम करता है । अच्छा ड्रॉप शिपर कौन होता है । इससे जुड़ी पूरी जानकारी आपको बताते है ।

क्या होता है ड्रॉप शिपिंग

ड्रॉप शिपिंग एक खुदरा बाजार बिजनेस है मतलब ऑनलाइन रिटेल बिजनेस करने का नायाब और व्यवस्थित तरीका है  इस तरह के बिजनेस में विक्रेता द्वारा ग्राहक से ऑर्डर तो लिए जाता है लेकिन उस ऑर्डर सामान का स्टॉक नहीं किया जाता । इसमें विक्रेता के पास पहले से कोई गोदाम नहीं होता है ऑर्डर लेने के कुछ दिन बाद विक्रेता सप्लायर से बात करता है उसे भेज देता है फिर सप्लायर ऑर्डर लिए समान को भेज देता है । आपको बता दें कि ड्रॉप शिपिंग बिजनेस की शुरुआत अधिकतर ई कॉमर्स वेबसाइट के जरिए ऑनलाइन सेलिंग से होती है । अगर आप ड्रॉप शिपिंग बिजनेस करने की सोच रहे है तो आपको सबसे पहले ई कॉमर्स वेबसाइट बनानी होगी। इससे आप प्रोडक्ट को ऑनलाइन भेज सकते  है। आप इसमें वस्तुओं की लिस्टिंग भी कर सकते है कितना सामान भेजा है ।

कैसे काम करता है ड्रॉप शिपिंग बिजनेस

आज कल हर कोई ऑनलाइन शॉपिंग पर निर्भर है उसी पर डिपेंड रहता है ग्राहक ऑनलाइन के जरिए छोटे से बड़े सामान ऑनलाइन खरीदते है । ड्रॉप शिपिंग बिजनेस शुरू करने के लिए आपको एक कम्प्यूटर , अच्छा इंटरनेट और अच्छी जगह की जरूरत होती है । आपके पास ई कॉमर्स वेबसाइट होनी चाहिए। जहां वस्तुओं की लिस्टिंग हो । जिन्हे आप ऑनलाइन बेचना चाहते है ।जिससे ग्राहक आसानी से प्रोडक्ट सेलेक्ट कर सके। और ऑर्डर कर सके। ड्रॉप शिपिंग मे आपको वास्तु को स्टॉक करने की जरूरत नहीं है । ड्रॉप शिपिंग मे आप एक खुदरा व्यापारी होते है। इसमें आपको किसी जिम्मेदारी की जरूरत नहीं होती। बल्कि सप्लायर ऑर्डर पहुंचता है । आपको इसके लिए शिपिंग चार्ज देना होता है कई बार सप्लायर पहले ही शिपिंग चार्ज जोड़ देते है । आप ड्रॉप शिपिंग के जरिए जो भी उत्पाद बेचते है आप उसके । मलिक नहीं होते ।

ड्रॉप शिप्पर सप्लायर कैसे चुने

ड्रॉप शिपिंग बिजनेस में सप्लायर बहुत कम मिलते है कई बार अच्छे से चुनाव नहीं कर पाते । आप क्या ऑनलाइन बेचेंगे इसका चुनाव खुद करेंगे या सप्लायर तय करेगा। सप्लायर अगर अच्छे से काम पर ध्यान नहीं देता तो आपको नुकसान हो सकता है । आइए जानते है कैसे होने चाहिए सप्लायर ।

प्रमाणित सप्लायर  – आप जिस भी सप्लायर से जुड़े है प्रोडक्ट मैन्युफैक्चरिंग कम्पनी से रजिस्टर्ड होना चाहिए । यह जरूरी नहीं है कि एक सप्लायर आपको ब्रांड का प्रोडक्ट दे रहा है । जिससे आपको मार्केटिंग करने में आसानी रहे। सप्लायर अगर उत्पाद खुद बना रहा है तो उसे गुणवत्ता पर अधिक ध्यान देना होगा । सही दामों पर वस्तु उपलब्ध कराएं । ड्रॉप शिपिंग मे मुनाफा उत्पाद बेचकर कमाया जाता है ।

रिटर्न पॉलिसी

यहां एक बात महत्वपूर्ण है कि खुदरा व्यापारी और सप्लायर के बीच प्रोडक्ट की रिटर्न पॉलिसी बहुत सॉफ्ट होनी जरूरी है क्योंकि कई बार ग्राहक को प्रोडक्ट पसंद नहीं आता । और वह प्रोडक्ट को वापस कर देता है ऐसे आपकी रिटर्न पॉलिसी ठीक होनी चाहिए ।

कैसे शुरू करें ड्रॉप शिपिंग बिजनेस

ड्रॉप शिपिंग बिजनेस शुरू करने के लिए आपको एक निस की जरूरत होती है मतलब आपको एक ऐसा प्रोडक्ट देखना है जिसने मुनाफा भी हो और वह बाजार में आसानी से मिल जाए । आपको ई कॉमर्स वेबसाइट की जरूरत होगी जहां आपका ऑनलाइन स्टोर होगा ।वेबसाइट बनाने के लिए डोमेन नाम खरीदना होगा। डोमेन नाम निस आधारित हो जिसे याद करने में आसानी हो । इसके बाद वेबसाइट होस्टिंग खरीदनी होती है । अच्छा बिजनेस करने के लिए मार्केटिंग बहुत जरूरी है अच्छी मार्केटिंग से वेबसाइट में ट्रैफिक आयेगा ।

Leave a Comment