UP 2022 : तो ऐसे जीते योगी आदित्यनाथ

Uttar Pradesh Assembly Election Result 2022 : देश के सबसे अधिक जनसंख्या वाले राज्य उत्तर प्रदेश ने अपना जनादेश सौंप दिया है। सभी 403 विधानसभा सीटों के नतीजे आ गए हैं। बीजेपी गठबंधन को 273 सीटें मिली हैं वहीं एसपी दूसरी ओर गठबंधन को 125 सीटें मिली है। कांग्रेस को 2, बीएसपी को 1 और अन्य के खाते में 2 सीटें आई हैं। भारतीय जनता पार्टी की इस ऐतिहासिक जीत से यह साफ होता है कि योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में भाजपा के काम को लोगों ने तरजीह दी है। 2017 के विधानसभा चुनाव में BJP को 312 सीटें मिली थी। तब उत्तर प्रदेश में भाजपा के पास कोई मुख्यमंत्री चेहरा नहीं था। इसलिए 2017 में जो भाजपा को जीत मिली थी उसका श्रेय ‘मोदी लहर’ को दिया गया था। मगर इस बार मोदी लहर के साथ साथ योगी लहर ने भी अपना कमाल दिखाया है।

हिंदूत्व की राजनीति और राष्ट्रवाद की विचारधारा पर चलने वाली भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अगुवाई में बीजेपी पूर्ण बहुमत के साथ दोबारा उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज होने जा रही है। गौरतलब है कि योगी आदित्यनाथ ने कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद उत्तर प्रदेश के हर एक ज़िले का दौरा किया और चुनाव के दौरान 200 से ज़्यादा रैलियां की। क्योंकि उत्तर प्रदेश में डबल इंजन की सरकार है इसलिए योगी आदित्यनाथ को प्रधानमंत्री मोदी का भी भरपूर साथ और मार्गदर्शन मिला। मोदी ने 27 चुनावी रैलियों को संबोधित किया। रैलियों में लाखों कई संख्या में भीड़ उमड़ती थी। इस पर विपक्षियों का कहना था कि मोदी योगी की रैली में भीड़ महज दिखावा है। लोग भाड़े पर लाये जा रहे हैं।

CM योगी की रिकॉर्ड जीत


विपक्ष के आरोप प्रत्यारोप योगी मैदान पर डटे रहे। गोरखपुर से लगातार पांच बार सांसद रह चुके योगी आदित्यनाथ ने इसी क्षेत्र से विधानसभा चुनाव भी लड़ने का फैसला किया और इस सीट पर योगी ने रिकॉर्ड तोड़ जीत दर्ज की। उन्होंने अपने चिर प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी की सुभावती शुक्ला को एक लाख से भी ज्यादा वोटों से करारी शिकस्त दी। वहीं भीम आर्मी प्रमुख चंद्र शेखर आजाद की इस सीट पर जमानत तक जब्त हो गई है। चंद्रशेकर को इस सीट पर मात्र 7640 वोट ही मिले। भाजपा समर्थकों का कहना है कि योगी आदित्यनाथ की यह जीत उनकी लोकप्रियता, कानून व्यवस्था और नकल्याणकारी योजनाओं का नतीजा है।

यह बातें योगी के पक्ष में रहीं


योगी आदित्यनाथ ने दावा किया था कि भाजपा पूर्ण बहुमत के साथ सरकार बनायेगी। उनका यह आत्मविश्वास सच साबित हुआ। योगी आदित्यनाथ एक बात साफ साफ कहा करते थे कि उनकी पार्टी का उद्देश्य सबको साथ लेकर चलना है। उनकी पार्टी तुष्टीकरण किसी ना नहीं करेगी मगर समाज के हर तबके को सम्मान देते हुए प्रदेश को आगे ले जायेगी। और योगी सरकार ने हूबहू ऐसा ही किया। जनता को योगी सरकार का रवैया भाया भी। अगर योगी सरकार नीतियां विफल रहती तो भाजपा उत्तर प्रदेश में 200 सीटें भी नहीं जीत पाती। अब देखना दिलचस्प होगा कि योगी आदित्यनाथ बतौर मुख्यमंत्री अपनी दूसरी पारी में क्या कमाल करते हैं।

जीत के बाद योगी ने किया ट्वीट

विधान सभा चुनाव-2022 में मिली ऐतिहासिक विजय के बाद योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया : सुशासन, सुरक्षा और राष्ट्रवाद को समर्पित आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के हृदयस्पर्शी मार्गदर्शन में उ.प्र. में भाजपा गठबंधन की ऐतिहासिक विजय सुनिश्चित हुई है। यह प्रचंड बहुमत प्रधानमंत्री जी की लोक कल्याणकारी नीतियों पर आमजन के अटूट विश्वास की मुहर है। जय श्री राम!

Leave a Comment