DDU Grameen Kaushalya Yojana : ग्रामीण युवाओं का भविष्य संवार रही दीन दयाल कौशल योजना

आमतौर पर देखा गया है कि रोजगार तलाशने के मामले में ग्रामीण और कस्बों के युवाओं की संख्या अधिक होती है शहरी क्षेत्रों में इसकी प्रतिशत मात्रा कम है मोदी सरकार हर सम्भव प्रयास कर रही है कि शहरों से लेकर ग्रामीण तक हर युवा को रोजगार प्रदान किया जाए । इसके लिए सरकार तरह तरह को योजनाएं लागू करती है जिसका फायदा सभी को मिले । सरकार ने ग्रामीण में रहने वाले युवाओं के लिए एक ऐसी ही योजना की शुरुआत की थी । जिसका नाम दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना है आज हम आपको इस योजना के बारे में बताएंगे साथ ही इसे लागू करने का उद्देश्य और इसकी प्रमुख बातें आप कैसे ले सकते है इसका लाभ । तो आइए जानते है ।

क्या है दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना

इस योजना की शुरुआत साल 2014 में की गई थी दरअसल यह योजना उन ग्रामीण युवाओं के लिए है । जो रोजगार के अवसर तलाश रहे है जिन ग्रामीण युवाओं को उम्र 15 साल से 35 साल तक है वो इसका लाभ ले सकेंगे । इस योजना के तहत इन युवाओं को रोजगारपरक प्रशिक्षण दिया जाता है जैसे ही युवा इस ट्रेनिग को पूरा करते है उन्हे रोजगार प्रदान करने की व्यवस्था की जाती है । साथ ही जो युवा खुद के लिए स्वरोजगार करना चाहते है तो सरकार उन्हें बिजनेस लोन देने में भी मदद करती है ।

क्या है इस योजना का उद्देश्य

  • ग्रामीण क्षेत्रों में बेरोजगारी कम करके रोजगार प्रदान करना
  • ग्रामीण युवाओं का शहर की ओर पलायन रुकेगा
  • युवाओं में जागरूकता होगी और विकास में मदद मिलेगी
  • युवाओं को उनके स्किल के तहत ट्रेनिंग मिलेगी और रोजगार
  • ग्रामीण युवा खुद के साथ साथ परिवार की भी आर्थिक मदद कर सके

दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के लाभ

  • दीन दयाल योजना के तहत ग्रामीण बेरोजगार युवा को प्रशिक्षण उनके हुनर को देखते हुए दिया जाएगा । ताकि वो अपने कौशल को निखार सके ।
  • रोजगार मिलने से युवाओं में अपराधिकता प्रवृति में कमी आयेगी ।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में न केवल विकास होगा बल्कि गरीबी भी कुछ हद तक नियंत्रण में आयेगी ।
  • इस योजना के तहत सरकार ने लगभग 200 कार्यों को शामिल किया है युवा अपनी मर्जी से चुनाव कर सकते है ।
  • यदि कोई युवा स्वयं भी उद्योग से जुड़ा कार्य करना चाहता है तो उसकी मदद की जाएगी ।

क्या होनी चाहिए पात्रता

सरकार ने दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के लिए जो पात्रता रखी है उसके लिए युवा को 15 साल से 35 साल तक होना चाहिए । आप बेरोजगार होने चाहिए । सरकारी कर्मचारी इसके पात्र नहीं होंगे ।

जरूरी दस्तावेज और कैसे करें आवेदन

इस योजना के अंतर्गत आपके पास जरूरी दस्तावेज होने चाहिए ।

  • आधार कार्ड
  • वोटर आईडी कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • स्थानीय निवास प्रमाण पत्र
  • 4 पासपोर्ट साइज फोटो

अगर आप दीन दयाल उपाध्याय योजना 2022 में भाग लेना चाहते है तो आपको आधिकारिक वेबसाइट ddugky.gov.in पर जाना होगा । इसके लिए नजदीकी लोकवाणी केंद्र भी जा सकते है ।

Leave a Comment