Kisan Credit Card Scheme 2022 : किसानों को सस्ती दर पर लोन दे रही है सरकार, ऐसे करें आवेदन

KCC: भारत एक कृषिप्रधान देश है। भारत के अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र का योगदान 17 से 18% प्रतिशत है। इस मतलब साफ है कि अगर किसान उन्नति करेंगे तो देश भी आत्मनिर्भर बनेगा। भारत सरकार ने किसानों को बल देने के लिए कई योजनाओं को आरंभ किया है। उनमें से ही एक है ‘किसान क्रेडिट कार्ड योजना’। इस योजना के तहत सरकार किसानों को सस्ती दर पर लोन भी मुहैया कराती है। एक और बात जो आपको जानना जरूरी है वो यह है कि ये योजना प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना से जुड़ी हुई है।

मगर आप इस योजना का लाभ कैसे उठा सकते हैं? तरीका क्या है? तो आइए जानते हैं कि आखिर इस योजना का लाभ कैसे उठाया जा सकता।

किसान क्रेडिट कार्ड कैसे बनवा सकते हैं?

• किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने का तरीका सरल है। आपको सबसे पहले अपने तहसील जाकर वहां लेखपाल से मिलना होगा। तहसील से मिलकर आपको उससे अपनी जमीन की खसरा-खतौनी निकलवानी पड़ेगी। इसके बाद आपको अपने नजदीकी बैंक में जाकर वहां पर बैंक मैनेजर से क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए आवेदन करना होगा।

• आवेदन करने के बाद बैंक मैनेजर आपको वकील के पास भेजेगा और कुछ जरूरी अहम जानकारियां भी लेगा। इसके बाद आपको एक फॉर्म दिया जायेगा जिसे आपको सावधानीपूर्वक भरना होगा। फिर वेरिफिकेशन होगा। और इसके बाद आपका किसान क्रेडिट कार्ड आपको मिल जायेगा।

लोन जमीन के आधार पर दी जायेगी

इस योजना के तहत लोन आपको आपकी जमीन के आधार पर ही दी जाएगी। इस बीच एक बात जिसे आपको ध्यान देने है वो यह है कि यदि आप किसी ग्रामीण बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाएंगे तो उसमें सरकार की ओर से इनसेंटिव वगैरह का प्रावधान है।

इस योजना का लाभ लेने के लिए पात्रता क्या होनी चाहिए?

  1. सभी किसान-वैयक्तिक/संयुक्त उधारकर्ता जो स्वयं खेती कर रहे हैं।
  2. कास्तकार किसान , मौखिक पट्टेदार एवं बंटाईदार आदि
  3. स्वयं सहायता समूह अथवा कास्तकार किसान , बंटाईदार आदि सहित किसानों के संयुक्त देयता समूह।

ब्याज़ दर क्या है?

3 लाख रुपए तक – 7%

3.00 लाख रुपए से अधिक – जैसा कि समय समय पर प्रयोज्य है

ब्याज सहायता क्या है?

3 लाख रुपए तक की राशि की समय पर चुकौती करने वाले उधारकर्ताओं को 3%

Leave a Comment