Ministry of Youth Affairs and Sports : भारत का खेल मंत्री कौन है? जानिये युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के बारे में

Goverment of India : भारत सरकार में हर विभाग के अलग मंत्रालय हैं। युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय उन्हीं में से एक है। युवा कार्य और खेल मंत्रालय की स्‍थापना नई दिल्‍ली में 9 वें एशियाई खेलों के आयोजन के समय 1982 में खेल विभाग के रूप में की गई थी। इसका नाम अंततराष्‍ट्रीय युवा वर्ष, 1985 के आयोजन के दौरान युवा कार्य और खेल विभाग रखा गया था। यह 27 मई 2000 को एक मंत्रालय बनाया गया।

Who is the Current Sports Minister of India?

काफी समय से देश के खेल मंत्रालय का जिम्मा किरण रिजिजू के पास था। बतौर खेल मंत्री उनका कार्यकाल शानदार रहा था। किरण रिजिजू के बाद खेल मंत्रालय की कमान संभाली अनुराग ठाकुर ने। 46 वर्षीय अनुराग ठाकुर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। ठाकुर मई 2016 से फरवरी 2017 तक बीसीसीआइ के अध्यक्ष थे। उससे पहले वह बोर्ड के सचिव थे और हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) के प्रमुख भी थे।

देश के नए खेल मंत्री अनुराग ठाकुर ने ट्वीट किया था, “मैं एक केंद्रीय कैबिनेट मंत्री के रूप में भारत के लोगों की सेवा करने के लिए सम्मानित महसूस कर रहा हूं और मुझे यह जिम्मेदारी सौंपने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति अपनी कृतज्ञता व्यक्त करता हूं।”

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर से सांसद ठाकुर बुधवार को कैबिनेट फेरबदल से पहले निर्मला सीतारमण के अंतर्गत राज्य वित्त एवं कारपोरेट मामलों के मंत्री के तौर पर काम कर रहे थे। उनके भाई अरुण धूमल इस समय बीसीसीआइ के कोषाध्यक्ष हैं। रिजिजू को मई 2019 में ओलंपिक रजत पदक विजेता राज्यवर्धन सिंह राठौर की जगह खेल एवं युवा मंत्री बनाया गया था।

Proud moments of Indian sports

  • 2018 के राष्ट्रमंडल खेल, 26 स्वर्ण और 20 रजत और 20 कांस्य
  • 2008 बीजिंग ओलिम्पिक, एक स्वर्ण और दो कांस्य पदक
  • 2007 ट्वेंटी -20 विश्व कप क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका
  • 2010 के राष्ट्रमंडल खेल, 38 स्वर्ण और 27 रजत और 36 कांस्य
  • 2012 लंदन ओलंपिक, 2 रजत और 4 कांस्य पदक
  • 2011 के विश्व कप क्रिकेट, भारत
  • 2010 एशियाई खेलों में 14 स्वर्ण और 17 रजत और 33 कांस्य

2 thoughts on “Ministry of Youth Affairs and Sports : भारत का खेल मंत्री कौन है? जानिये युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय के बारे में”

Leave a Comment