SMS FULL FORM : क्या है SMS का फुल फॉर्म , आप कैसे भेज सकते है एसएमएस यहां जानिए पूरी जानकारी

 

एसएमएस : आज भले ही समय बदल चुका हो लेकिन एसएमएस आज भी बड़ी संख्या में लोग भेजते है एक दौर था जब पहली बार भारत में मोबाइल ने दस्तक दी तो लोगों ने फोन करना तो जारी रखा उसकी सहूलियतें भी खूब ली । साथ  में एसएमएस का आदान प्रदान खूब किया । हर छोटी और बड़ी बातें एसएमएस के माध्यम पूछते । दोस्तों पहले एसएमएस करने के लिए अलग से रिचार्ज करना पड़ता था जिसे एसएमएस पैक कहते थे।  छात्रों को अपने टीचर से पूछना हो , शादी के लिए बधाई देना , त्योहारों की बधाई देना यहां तक अन्य कामों को लेकर संदेश पहुंचना SMS के जरिए होता था । लोग एसएमएस के जरिए बात भी घंटो घंटो करते थे । आज हम आपको SMS से जुड़े कई महत्वपूर्ण बातें बताएंगे साथ ही यह भी बताएंगे की SMS का पूरा नाम क्या है ।

क्या है SMS का पूरा नाम

दोस्तों यह बात अलग है कि आज कई सारे एप मौजूद है लेकिन उनके जरिए भी हम SMS भेजते है फेसबुक , इंस्टाग्राम, what’s app, टेलीग्राम , ऐसे बहुत सारे एप है जिन्होने एसएमएस की जगह ले ली । अब तो फोटो और वीडियो भी भेज सकते है यही नहीं वॉयस एसएमएस भी कर सकते है । अब आपको बताते है कि SMS का पूरा नाम क्या है SMS का फुल फॉर्म short Messaging Services है । SMS का आविष्कार साल 1984 में Friedhkem Hillebrand  और Barnard Ghillebaert ने किया था ।आपको शायद जानकारी नहीं होगी लेकिन हम आपको बताते है कि नोकिया एक ऐसी कम्पनी थी जिसमे एसएमएस को अपने बनाए फोन की मदद से लोगों तक पहुंचाया । तब आप एसएमएस की मदद से 160 शब्दो का संदेश भेज सकते थे। शुरुआत मेन्यू जीएसएम के लिए बना था लेकिन बाद में यह CDMA फोन को भी सपोर्ट करने लगा । ऐसा नहीं है कि लोग पूरी तरह से एसएनएस को भूल गए है स्मार्ट फोन से एसएमएस करने वाले लोगों की संख्या भले ही कम हो लेकिन जिनके पास अभी भी की key paid मोबाईल है उनके पास संदेश भेजने का एक मात्र साधन SMS ही है ।

SMS की मुख्य बातें

* 1984 में जब SMS तकनीक आई थी तो इतना पापुलर नहीं था । 
* लोगों के हाथों में जैसे ही मोबाइल आया तो एसएमएस का संचार धीरे धीरे बढ गया 
* SMS के जरिए 160 शब्दो पर अपना संदेश दूसरो को भेज सकते है ।
* आज भी key paid मोबाईल से संदेश भेजने का एकमात्र साधन एसएमएस है 
* बड़ी संख्या मे लोगों के पास स्मार्ट फोन होते हुए भी एसएमएस का उपयोग करना नहीं भूलते ।
* एसएमएस भेजने का स्वरूप बदल गया है जैसे व्हाट्स एप, फेसबुक, इंस्टाग्राम आदि से भी एसएमएस भेजते है 
* भारत की सभी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल, वोडाफोन आइडिया, बीएसएनएल जिओ SMS को सपोर्ट करती है 

Leave a Comment