इन देशों के पास है बेशुमार पैसा | Top 10 Richest Country in the World

अमेरिका नंबर 1
अमेरिका की कुल संपत्ति 106 लाख करोड़ डॉलर (7,420 लाख करोड़ रुपये) है। दुनिया की सबसे बड़ी और महारथी कंपनियां जैसे गूगल, माइक्रोसॉफ्ट, अमेज़न अमेरिका की हैं। इससे अमेरिका की अर्थव्यवस्था को काफी बल मिलता है। गौरतलब है कि पूरी दुनिया के कुल पैसों में 30 फीसदी पैसा अकेले अमेरिका के पास है।

चीन नंबर 2
चाइना की कुल संपत्ति 63.83 लाख करोड़ डॉलर (4,468 लाख करोड़ रुपये) है। आज दुनिया भर में मेड इन चाइना का सामान छाया रहता है। इसकी सबसे बड़ी वजह ये है की चीन अपना सामान सस्ते दामों पर अन्य देशों में निर्यात करता है।

जापान नंबर 3
जापान की कुल संपत्ति 24.99 लाख करोड़ डॉलर (1,750 लाख करोड़ रुपये) है। जापान अपनी टेक्नोलॉजी की वजह से पूरी दुनिया में प्रख्यात है। टेक्नोलॉजी के अलावा सुरक्षा के लिए हथियार बनाने में और उसे किसी अन्य देशों में निर्यात के लिए भी जापान मशहूर है।

जर्मनी नंबर 4
जर्मनी की कुल संपत्ति 14.66 लाख करोड़ डॉलर (1,026 लाख करोड़ रुपये है। दूसरे विश्व युद्ध के दौरान जर्मनी आर्थिक तौर से तबाह हो गया था। मगर आज की तारीख में पूरी दुनिया में जर्मनी का बोलबाला है।

ब्रिटेन नंबर 5
ब्रिटेन की कुल संपत्ति 14.34 लाख करोड़ डॉलर (1,003.8 लाख करोड़ रुपये) है। ब्रिटेन दुनिया की सबसे विकसित इकोनॉमी में से एक है।

फ्रांस नंबर 6
फ्रांस की कुल संपत्ति 13.73 लाख करोड़ डॉलर (961.1 लाख करोड़ रुपये) है। फ्रांस हथियार, बेहतरीन तकनीक, फैशन और नए ट्रेंड्स, कई अन्य सेवाओं और उत्पादों सहित अपना समृद्ध निर्यात के लिए जाना जाता है।

भारत नंबर 7
भारत की कुल संपत्ति 12.61 लाख करोड़ डॉलर (882.7 लाख करोड़ रुपये) है। भारत एक वक़्त इतना समृद्ध था कि लोग इसे सोने की चिड़िया के नाम से पुकारते थे। लेकिन 1947 में मिली आजादी के बाद कुछ समय के लिए भारत कु आर्थिक स्थिति डगमगा गयी। मगर आज भारत बुलंदियाँ छू रहा है।

इटली नंबर 8
इटली की कुल संपत्ति 11.36 लाख करोड़ डॉलर (795.2 लाख करोड़ रुपये) है। इटली में आय के अपने कई व्यापक स्रोत हैं। पर्यटन, कृषि और सुदृढ़ बैंकिंग व्यवस्था ने इटली को अपनी आय बढ़ाने में प्रमुख योगदान दिया है।

कनाडा नंबर 9
कनाडा की कुल संपत्ति 8.57 लाख करोड़ डॉलर (600 लाख करोड़ रुपये) है। कनाडा में प्राकृतिक संसाधनों का तीसरा उच्चतम अनुमानित मूल्य है , जिसका मूल्य 2019 में यूएस $33.2 ट्रिलियन था। इसके पास दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा सिद्ध तेल भंडार है और यह कच्चे तेल का चौथा सबसे बड़ा निर्यातक है। यह प्राकृतिक गैस का चौथा सबसे बड़ा निर्यातक भी है।

Leave a Comment