Skin Care: सर्दियों में अपनी त्वचा का रखें खास ख्याल

सर्दियों का मौसम जारी है और जब भी सर्दियों का मौसम आता है तो सिर्फ ठंड ही आपके लिए परेशानी का सबब नहीं बनती बल्कि सर्दी का प्रभाव आपकी त्वचा पर भी देखने को मिलता है ।थोड़ी सी अनदेखी पर आपकी त्वचा मुरझाने लगती है मतलब की तापमान में कमी और ठंडी व शुष्क हवाएं त्वचा की दिक्कतों को बढ़ा देती है ऐसे मौसम में पूरी बॉडी में रूखापन सबसे आम समस्या है।

सर्दियों में रूखी त्वचा के लिए क्या करें

कभी कभी इसके अन्य कारण भी दिखते है सर्दियों के मौसम में तापमान कम होने की वजह से हमारी शरीर की कोशिकाएं सिकुड़ जाती है ।और त्वचा का प्रकतिक तेल जो गर्मियों में पसीने के साथ निकलता है जो कि सर्दियों में नहीं निकल पाता ।

सर्दियों में त्वचा का ख्याल कैसे रखें

इससे त्वचा में रूखापन और खुजली धीरे धीरे बढ़ने लगती है। ठंड के मौसम में तेज गर्म पानी से नहाना और धूप में देर तक रहना भी त्वचा को प्रभावित करता है। त्वचा की नमी को बनाए रखने में पानी और त्वचा में मौजूद कुदरती तेल की भूमिका अधिक देखने को मिलती है ।जिन्हे पहले से त्वचा से जुड़ी समस्याएं है उन्हे ठंड में खास ध्यान रखने की जरूरत होती है । तो आइए जानते है कुछ खास बातें

कैसे रखें देखभाल

हमारी त्वचा पर ठंड का असर कैसा और कितना होगा यह सुनिश्चित त्वचा की प्रकती पर निर्भर करता है। वैसे तो सामान्य त्वचा को इतनी देखभाल की जरूरत नहीं पड़ती खासकर सर्दियों के मौसम के । जिनकी त्वचा पहले से सामान्य है उन्हे सिर्फ सामान्य तरीके से ही अपनी त्वचा की देखभाल रखनी चाहिए । सामान्यतया यह देखा गया है कि सर्दी आते ही रूखापन हो जाता है इसलिए एक अच्छे क्रीम की से त्वचा को ठीक करने में मदद मिल जाती है ।

एक बात और तैलीय त्वचा मे देखा गया है कि तिल, मुंहासें और फुंसियां ज्यादा निकलती है । इसलिए ऐसी त्वचा को नियमित सफाई की जरूरत पड़ती है ।साथ ही खुश्क त्वचा को ठंडी व सूखी हवाओं से बचाना होता है ।

  • नहाने के लिए ज्यादा गर्म पानी का इस्तेमाल न करें
  • कोशिश करें कि ताजे पानी से ही नहाएं
  • सर्दी को देखते हुए धूप में ज्यादा समय तक न बैठे
  • मौसमी चीजें खाए , और खाने पीने का विशेष ध्यान दें
  • नियमित समय पर पानी पीते रहें
  • अच्छी क्रीम और मोइच्चराईजर का उपयोग करें

होंठ और एड़ियों का फटना

वैसे भी यह देखा गया है कि सर्दी आते ही मुंह कम सूखता है जिसकी वजह से लोग पानी कम पीने लगते है और पानी की कमी से मुंह और होंठ दोनों सूखने लगते है मगर सर्दियों में होठ सूखते नहीं बल्कि फटने लगते है । क्योंकि हमारे होंठो की त्वचा बहुत पतली होती है ।

शुष्क हवावों की वजह से होंठ में दरारें पड़ना शुरू हो जाती है ।तेज दर्द और जलन भी होती है । इससे बचने के लिए खूब पानी पिएं । सॉफ्ट क्लींजर का इस्तेमाल करें । याद रहें कभी रंगीन लिप बाम मत लगाएं ग्लिसरीन लगाते रहे। रही बात एड़ियों कि तो एड़ियों मे इतनी ज्यादा दरारें पड़ने लगती है जिससे उपरी खाल निकलने लगती है ।रूखी त्वचा होने पर भी एड़ियां ज्यादा फटती है ।ऐसा इसलिए भी होता है बढ़ती उम्र , एगजीमा व सोरायसिस के कारण होता है ।

जिनका इम्यून सिस्टम कमजोर होता है और डायबिटीज के मरीज होते है उनके साथ अक्सर यही देखा गया है ।इसलिए अपने पैरों को साफ सुथरा रखें । एड़ी को घिसते रहे ।सॉफ्ट साबुन और ब्रश का इस्तेमाल कर सकते है ।पेट्रोलियम जेली, ग्लिसरीन , शिया बटर , विटामिन ई आदि का उपयोग करें साथ ही हमेशा जुराबें पहनकर रखें ।

Leave a Comment